वीथी

हमारी भावनाएँ शब्दों में ढल कविता का रूप ले लेती हैं।अपनी कविताओं के माध्यम से मैंने अपनी भावनाओं, अपने अहसासों और अपनी विचार-धारा को अभिव्यक्ति दी है| वीथी में आपका स्वागत है |

Tuesday, 20 August 2013

दोहा - रक्षाबंधन


राखी का पर्व दो दिन मनाया जा रहा है ...यानी दोगुनी खुशी....











हम भी अपने भाइयों और मित्रों के साथ स्नेह साझा करने आ गए हैं एक

 दोहे के साथ -








चित्र : साभार गूगल

9 comments:

  1. रक्षाबंधन की हार्दिक शुभ-कामनायें। ,

    ReplyDelete
  2. सुन्दर ,सरल और प्रभाबशाली रचना। बधाई। कभी यहाँ भी पधारें।
    सादर मदन
    http://saxenamadanmohan1969.blogspot.in/
    http://saxenamadanmohan.blogspot.in/

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद मदन जी । अवश्य आऊंगी थोड़ा समय दें ।

      Delete
  3. Replies
    1. आभार महेन्द्र जी ।

      Delete
  4. आपकी आज कि यह पोस्ट बुधवार, २१ अगस्त २०१३ के ब्लॉग बुलेटिन - राखी कि शुभकामनाओं पर प्रकाशित की जा रही है | हार्दिक बधाई |

    ReplyDelete
  5. आभार तुषार जी । ज़रूर पधारेंगे ब्लॉग बुलेटिन पर ।

    ReplyDelete
  6. बहुत सुंदर....
    :-)

    ReplyDelete